बुधवार, 10 फ़रवरी 2010

हिन्दू समागम को सफल बनाने में महिलाएं प्राणपण से जुटेंगी

राष्ट््रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक श्री मोहनराव भागवत के भोपाल आगमन पर 28 फरवरी को भोपाल में आयोजित किये जा रहे हिन्दू समागम की तैयारियंा जोर शोर से जारी हैं। कार्यक्रम की सफलता के लिए स्थान स्थान पर बैठकों के दौर शुरू हो गए हैं। इसी तारतम्य में विभिन्न समाजों की महिला पदाधिकारियों की एक बैठक आयोजित की गई जिसमें आयोजन समिति की सदस्य महापौर श्रीमती कृष्णा गौर ने कहा कि हिन्दू समागम भोपाल के इतिहास में एक यादगार कार्यक्रम होगा। श्रीमती गौर ने कहा कि महिलाएं परिवार की धुरी हैं और परिवार हिन्दू समाज का आधार है। इसीलिए इस आयोजन की सफलता में महिलाओं को बहुत महती भूमिका निभानी है। इस अवसर पर श्रीमती कृष्णा गौर ने कहा कि देश तीन चीजों से चलता है शक्ति बुद्धि और समृद्धि । और भारतीय चिंतन में इन तीनों शक्तियों की प्रतीक लक्ष्मी सरस्वती और दुर्गा ही हैं। उन्होंने कहा कि 28 फरवरी का हिन्दू समागम एक ऐसा अवसर है जब हिन्दू मातृशक्ति बडी संख्या में लाल परेड मैदान में एकत्रित हो कर अपने सामाजिक दायित्व को पूरा करने की दिशा में आगे बढ सकती है।
उन्होंने कहा कि जैसे महिलाओं का परिवार के प्रति दायित्व है वैसे ही उनका देश व समाज के प्रति भी एक दायित्व है और हिन्दू समागम इस दायित्व को निभाने का एक महत्वपूर्ण माध्यम है। श्रीमती गौर ने महिलाओं से आव्हान किया कि 28 फरवरी को वे मातृशक्ति का भव्य स्वरूप उपस्थित करने मेे प्राणपण से जुट जाएं।

1 टिप्पणी:

Suresh Chiplunkar ने कहा…

इस विराट आयोजन हेतु समस्त हार्दिक शुभकामनाएं…